To that guy after me :

Hey Man! I know this is a lil awkward for you but there are certain things I’d like to talk to you about before you get along with her. Firstly, I am sorry if she came to you in a mildly confused state. That was probably because She don’t have feelings for me or she’s […]

Read More To that guy after me :

ए मुसाफिर ..

मुसाफिर थी तुम और मै एक छाँव .. बेहद करीब से गुजरी तुम जैसे दबे पाँव , शाम आते ही खामोशी से अलविदा कह गयी .. ये कैसी थी शाम जो होते ही ढल गयी , गर ये खामोशी नही तेरी मजबूरी है , तो छोड़ो ये मंजिले भी फिर कहाँ जरूरी है ।

Read More ए मुसाफिर ..

कौन कहता है ..

कौन कहता है हमारी अब बात नही होती .. किसी रोज , किसी शाम … अगर फुरसत मिले तो आना और पूछना मेरी डायरी के हर एक पन्ने से : बेशक इन पन्नों मे गंदी लिखावट , धुंधली स्याही से लिखी चंद बातें और तुमसे जुड़ी कुछ यादें होंगी .. पर जज्बात तो सब हमारे […]

Read More कौन कहता है ..